बिहार के मधुबनी जिले में एक अस्पताल से गायब हुई ब्लैक फंगस की दवा। 

ब्लॉक कांग्रेस के बढ़ते मामलों के बीच बिहार के एक और भी बहुत ही गंभीर खबर सामने आई है मधुबनी जिले में सदर अस्पताल से ब्लॉक सोंग्स के इलाज के लिए चिन्हित इंजेक्शन गायब हो गई है इसके गायब होने के बाद अस्पताल में हड़कंप मच गया क्योंकि जिन लोगों को इनकी जरूरत थी जिनके परिवारों की जान इन दवाओं से बच सकती थी, उनके लिए यह काफी गंभीर खबर थी।

इस मामले में ए ग्रेड नर्स चंद्रकला ने बताया कि यह दवा इमरजेंसी के बगल वाले चोर के आई एल आर डीप फ्रीजर में रखी गई थी जहां से दो पैकेट गायब हो गई है उन्होंने यह भी बताया कि अप्रैल में सिर्फ दो लोगों को सुई देकर स्टॉक में पंचानवे वह इस विशेष की रिपोर्ट में भेजी गई थी जबकि जून में स्टॉक मिलने के क्रम में 95 में से सिर्फ 75 ही उपलब्ध थी।

इस मामले की जांच के लिए सिविल सर्जन ने प्रभारी डॉक्टर डीएस मिश्रा सहित चार लोगों की एक कमेटी बना दी गई है कमेटी ने स्टोर से संबंधित तीन लोगों से पूछताछ की है और एक लिखित जवाब भी मांगा है मालूम हो कि गायों के इंजेक्शन की कीमत 50000 से ₹100000 तक बताई जा रही है।

Leave a Comment